फेफड़ो की देखभाल कैसे करे ?,क्रिया,दिक्कत के कारण,उपाय -(fefdo ki dekhabhal,kriya,dikkat ke karan aur upaay)

फेफड़ो की देखभाल कैसे करे ?

    फेफड़े हमारे शरीर के वह बिशेष अंग है जो शरीर के अंदर रहते हुए भी सबसे ज्यादा प्रदुषण की मार झेलते है। फेफड़े हमारे लिए इसलिए भी बहुत महत्व्पूर्ण है क्योकि इनकी वजह से हम श्वसन क्रिया करते है। यह नाक की नलियो के सहारे हमारे शरीर में ऑक्सीजन पहुचाते है और अंदर से कार्बन डाई ऑक्साइड को बाहर निकालते है। इनका देखभाल इसलिए भी बहुत जरुरी है क्योकि इनका ट्रांसप्लांट नही किया जा सकता औरो की तरह जैसे किडनी, लीवर या हार्ट का होता है।

फेफड़ो की क्रिया-

    यह हर व्यक्ति जनता है की हमें जिंदा रहने के लिए ऑक्सीजन की जरुरत होती है।क्योकि यही ऑक्सीजन रक्त में मिलकर हमारे कोशिका को जीवित रखते है।

जब हम सास लेते है तो ऐसा नही की हैम केवल शुद्ध ऑक्सीजन  ही ग्रहण करते है ऑक्सीजन के साथ साथ धूल के कड़,अलर्जी फ़ैलाने वाले बैक्टिरिया और कार्बन डाई ऑक्साइड भी लेते है लेकिन जब हम सास लेते है तो यह गन्दगी कुछ  नाक में ही रुक जाती है और कुछ फेफड़ो तक पहुचती है ।फेफड़ो में बहुत सी चलनी जैसी छोटी छोटी वायु तंत्र होते है। जिनके द्वारा यह गन्दगी पूरी तरह से रोकी जाती है और ऑक्सीजन हार्ट तक पहुचता है उसके बाद खून में मिलकर के शरीर में फैलता है इसके बाद बची वायु (गन्दगी) को हम फिर से वातावरण में छोड़ देते है।

 

फेफड़ो की दिक्कत के कारण –

  > हमारे वातावरण में बहुत सी सुछम जीव जैसे वायरस और बैक्टीरिया होती है जिनको हैम देख नही पाते है यह हमारे फेफड़ो तक बार बार पहुचती है जिससे हमारे फेफड़ो में संक्रमण और सूजन की दिक्कत आती है जिसे न्यूमोनिया कहते है यह खास कर के नवजात शिशु को ज्यादा होता है।

  > ज्यादा धूम्रपान या नशा करना भी हमारे फेफड़ो की सेहत बिगाड़ देता है क्योकि जब हम धूम्रपान करते है  नशा पदार्थय हमारे फेफड़ो के सूछम नलिकाओं में जाकर उन्हें बंद कर देते है। जिससे हमें ऑक्सीजन कम मिलता है ।

 > गन्दा वातावरण हो तो भी हमारे फेफड़े जल्दी प्रभावित होते है अगर आप किसी फैक्ट्री में कम करते है तो ओह बहुत से हानिकारक जिवाडु या तत्व वायु में मिले होते है जिससे हमारे फेफड़ो में इन्फेक्शन होता है।

> फेफड़े की समस्या होने पर हमें ऑक्सीजन कम मिल पता है ऑक्सीजन के कम मिलने पर यह हमारे मस्तिष्क तक नही पहुच पाता है अपने आप में सबसे बड़ी बीमारी साबित होती है।अगर मस्तिष्क में 90%से कम ऑक्सीजन पहुचता है तो डॉक्टर NABULIZER की सलाह देते है।

 > रोग प्रतिरोधक छमता के कम हो जाने पर हमारा शरीर थोड़ी मात्रा भी गंदगी को झेल नही पाता बल्कि प्रभावित हो जाता है।

 

फेफड़े की समस्या से बचने के उपाय –

1. जब भी आप धूल वाली जगह पर हो या गंदे वातावरण के अनुभव हो तो मास्क जरूर लगाये।

2. घर की सफाई रोजाना करे जैसे पर्दो की साफ करना,झाड़ू लगाना,काफी दिनों से पड़ी वस्तुए की सफाई

3. रोजाना सुबह बाबा रामदेव के अनुलोम विलोम व्यायाम को करना।

4. फलो का सेवन करे क्योकि इनमे ऐसे तत्व पाये जाते है जो हमारे रोग प्रतिरोधक छमता को बढ़ाते और गन्दगी को दूर करते है।विटामिन c वाले फल ज्यादा लाभदायक होते है।


5. अगर आप धूम्रपान करते है तो छोड़ दे।

6. कार को चलाते समय कार का सीसा बंद रखे क्योकि गन्दगी तेजी से आपके पास आती है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ध्यान दे की इस साइट पर जो उपाय व नुस्खे बताए जाते है वो प्रयोग किए हुए होते है सभी लेख जानकारी देने के लिए लिखे जाते है उपाय व नुस्खे आज़माने से पहले सोच विचार ज़रूर करे किसी प्रकार की अन्होनी होने पर यह साइट की कोई ज़िम्मेदारी नही होगी