वकील कैसे बने ? योग्यता कितनी होनी चाहिए पूरी जानकारी subhindi.com

वकील का महत्व या अहमियत -(Significance of lawyer in hindi)

आज का समाज बहुत जागरूक हो चुका है हर वर्ग को अपने अधिकार व समाज में हो रहे भेदभाव और दुर्व्यवहार के बारे में पता चल चुका है यह सब शिक्षा के कारण संभव हुआ है| अधिकार के पता होने पर व्यक्ति अपने साथ होने वाले किसी भी तरह के दुर्व्यवहार जैसे किसी के द्वारा घूस मांगने पर, किसी के द्वारा आप की जमीन पर कब्जा कर लेने ,मारपीट ,चोरी  आदि को सहन करने की बजाए उसके खिलाफ आवाज उठा रहा है और जरूरत पड़ने या जटिल मामले में कानून का दरवाजा भी खटखटा रहा है जिससे उसे न्याय मिल सके इस कारण से आज के समय में न्यायायिक मामले बढ़ रहे हैं कानूनी लड़ाई को लड़ने के लिए व्यक्ति अच्छे से अच्छा वकील करता है जोकि प्रार्थी का पक्ष नियम कानून और धाराओं के साथ रखकर उसको न्याय दिलाता है ऐसे में अगर आपके अंदर थोड़ी चंचलता, चतुरता और मदद इच्छा भावना है तो आप अपना कैरियर वकील के रुप में  वकालत के क्षेत्र में भी बना सकते हैं-

वकील का कैरियर-

वकालत के छेत्र में वकील के लिए कैरियर को उडान देने के लिए तमाम तरीके है जिससे वह  अपना कैरियर बना सकते है जब आप लॉ का कोर्स कर लेते है उसके बाद आप किसी के लिए भी वकालत कर सकते है इतना ही नही बहुत से बड़ी कंपनिया क़ानूनी सलाह और मुकदमो की देखरेख के लिए खासतौर पर वकील रखती है| इसके अलावा आप अपना खुद का क़ानूनी सलाहकार शॉप भी खोल सकते है जहा आप कुछ फीस लेकर क़ानूनी सलाह दे सकते है |इतना ही नही आप वकालत के साथ ही साथ अपने ज्ञान को बढ़ाते हुए समय के साथ चलकर आप  ज्यूडिशरी के एग्जाम देकर न्यायलय के उच्चतम कुर्सी (जज के पद) तक पहुच सकते है |

वकील बनने या ला करने के लिए योग्यता –

वकील बन्ने के लिए आप तीन वर्षीय या पाच वर्षीय पाठ्यक्रम पढ़ सकते है अपने सुविधानुसार लेकिन ध्यान देने वाली बात यह है की तीन वर्षीय पाठ्यक्रम के लिए आप स्नातक पास होने चाहिए मतलब स्नातक(बैचलर डिग्री 55 प्रतिशत अंको के साथ) करने के बाद आप तीन वर्षीय ला पाठ्यक्रम पढ़ सकते है इसके अलावा अगर आप ने 12 वी कछा 45 प्रतिशत अंको के साथ पास कर ली है तो आप 5 वर्षीय पाठ्यक्रम में प्रवेश ले सकते है | यहा कुछ जाती वर्ग के लिए 12 वी में आने वाले अंको में छुट भी दी जाती है |

लोको पायलट कैसे बने ? शैक्षिक अहर्ता,उम्र कितनी होनी चाहिए,शारीरिक मापदंड,कितनी मिलती है सैलरी,चयन प्रक्रिया

ला करने के लिए प्रवेश परीक्षा – (CLET ENTRANCE TEST)

  • NLSIU – Bangalore
  • NALSAR – Hyderabad
  • NLIU – Bhopal
  • WBNUJS – Kolkata
  • NLU – Jodhpur
  • HNLU – Raipur
  • GNLU – Gandhinagar
  • RMLNLU – Lucknow
  • RGNUL – Patiala
  • CNLU – Patna
  • NUALS – Kochi
  • NLUO – Cuttack
  • NUSRL – Ranchi
  • NLUJAA – Guwahati
  • DSNLU – Visakhapatnam
  • TNNLS -Tiruchirappalli
  • MNLU – Mumbai
  • MNLU- Nagpur

उपरोक्त भारत देश के 18 संस्थान में ला की पढाई के लिए कॉमन ला एडमिशन टेस्ट परीक्षा आयोजित की जाती है         जिसमे उपरोक्त योग्यता होने पर आप बैठ सकते है | परीक्षा के संपन्न होने के बाद cutoff निकाल कर बच्चो की एक लिस्ट तैयार की जाती है और उसके बाद चयनित बच्चो का प्रवेश लिया जाता है जहा आप अपना ला की पढाई पूरी कर सकते है | इसके अलावा कई यूनिवर्सिटी और राज्य अपने अस्तर पर अपने तरीके से परीक्षा आयोजित करते है जहा योग्यता होने पर  परीक्षा देकर आप प्रवेश ले सकते है |

कॉमन ला एडमिशन टेस्ट पेपर पैटर्न –


200 प्रशन 200 नंबर के पूछे जाते है जिसके लिए 2 घंटे का समय दिया जाता है | इस पेपर में ध्यान देने वाली बात यह है की हर एक गलत उत्तर के लिए आपके एक चौथाई मतलब 1/4 अंक काट लिए  जाते है |

स्नातक करने वाले विद्यार्थीयो के लिए कई संस्थाए ला की पढाई करने का अवसर प्रदान करती है जैसे – Banaras Hindu University, Delhi University, Punjab University, Government Law College (Mumbai) इत्यादी |

वकील बन्ने के अंतिम चरण में आपको ऑल इंडिया बार काउंसिल (All India Bar Council) के द्वारा आयोजित परीक्षा पास करना होता है | इस परीक्षा को पास करने के साथ ही साथ आपको एक वर्ष का इंटर्नशिप भी करना होता है | इसके बाद आप कोर्ट में प्रैक्टिस कर सकते है |

वकील के गुण (lawyer quality)-

  1. किसी भी बात के सही और गलत दोनों ही पहलू का समझ होना चाहिए |
  2. बातो को स्पस्ट व बिना घबराहट ,जल्दबाजी के किसी के भी सामने रखने का समन्यवय होना चाहिए |
  3. किसी भी बात की तेज पकड़ होनी चाहिए जैसे की अगला आदमी आपको क्या कहना चाहता है और अगले पछ आप उसे क्या कहेंगे | दूर तक की सोच |
  4. नियम और धारावो का कुशल ज्ञान होना चाहिए |
  5. एक अच्छे वकील के लिए अच्छा संवाद और अच्छा ज्ञान  के साथ ही साथ एकाग्रता होना बेहद जरुरी है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ध्यान दे की इस साइट पर जो उपाय व नुस्खे बताए जाते है वो प्रयोग किए हुए होते है सभी लेख जानकारी देने के लिए लिखे जाते है उपाय व नुस्खे आज़माने से पहले सोच विचार ज़रूर करे किसी प्रकार की अन्होनी होने पर यह साइट की कोई ज़िम्मेदारी नही होगी