स्वस्थ रहने के 15 नियम व दैनिक कार्य -(swasthya rahne ke niyam w dainik kary)

स्वस्थ रहने के 15 नियम व दैनिक कार्य -(swasthya rahne ke niyam w dainik kary in hindi)

आज के इस पोस्ट में हम उन बातों के बारे में जानेंगे जिसे हर कोई को करना चाहिए जिससे वह स्वच्छ रहे और स्वस्थ रह कर बेहतर काम करे |

1. सबसे पहला काम या अनुशासन यह होना चाहिए कि व्यक्ति को अपना बिस्तर सुबह 4:00 से 5:00 बजे के बीच में छोड़ देना चाहिए और सुबह की ताजी हवा में दौड़ या टहलकर सैर करना चाहिए जिससे शरीर में फुर्ती आ जाती है और मन भी प्रसन्न रहता है |

अनार का जूस या अनार के दाने के फायदे (anar ke fayde in hindi)

2.सैर करके आने के कुछ देर बाद 15 से 20 मिनट बाद एक गिलास हल्का गुनगुना या साधारण साफ पानी पीना चाहिए जिससे मल त्याग अच्छा वह बेहतर तरीके से होता है|

3. रोजाना सुबह मल त्याग करना चाहिए इसके लिए एक निश्चित समय रखें जिससे आपको रोजाना उसी समय पर मल त्याग का आभास होगा और आपका पेट साफ रहेगा जिससे कब्ज और अन्य समस्याएं नहीं होंगी|

4. मल त्याग करने के बाद आंख नाक और मुंह की भी सफाई करें मुंह की सफाई के लिए नीम के दातुन और मंजन का इस्तेमाल कर सकते हैं दांतों को साफ करने के साथ ही साथ जीभ को भी साफ रखना जरूरी है|

5.अगर आप जवा व्यक्ति हैं और आपकी दाढ़ी है तो उनको भी साफ रखें इसके बाद आप स्नान करे |

6.स्नान करते समय साफ व सुथरा ठंडे पानी को इस्तेमाल करें स्नान करने के बाद हल्के वस्त्र व साफ-सुथरे वस्त्र पहने अब आपका  शरीर हल्का महसूस होगा |

7.स्नान करने के बाद आप प्रभु का ध्यान व पूजा अर्चना करें पूजा अर्चना करने से दिन भर के कार्यों को करने के लिए आत्मविश्वास वह शक्ति मिलती है |


8.प्रार्थना करने के बाद सुबह का भोजन ले और यह भोजन बहुत से लोग ब्रेकफास्ट मानकर हल्का करते हैं पर ऐसा ना करें आप अच्छा व भरपूर , भरपेट से हल्का कम भोजन करें |

9. दिन में किसी भी काम को करते समय एक निश्चित समय के बाद 5 से 10 मिनट के लिए जरूर आंखों को बंद कर विश्राम करें|


मुंह की बदबू के कारण और 7 घरेलू उपाय(इलाज),सावधानिया muh ki badboo ka ilaj in hindi

10.दिन भर आप पानी को एक अंतराल पर थोड़ा थोड़ा करके जरुर पीते रहे जिससे आपके शरीर और मांसपेसियो में नमी बनी रहेगी और रक्त संचार भी ठीक रहेगा |

11.अगर आप ऑफिस या किसी ऐसे जगह पर काम कर रहे हैं जहां आपको घंटो बैठना रहता है तो आप हर घंटे या कुछ समय के लिए अपनी कुर्सी छोड़ कर टहले जिससे घुटने अच्छे रहें और शरीर में अच्छा रक्त संचार हो |

12.दोपहर का भोजन सुबह के भोजन से हल्का व सलाद के साथ करें सलाद के लिए आप गाजर, मूली ,खीरा ,टमाटर प्याज आदि  का इस्तेमाल कर सकते हैं दूसरी बात का ध्यान रखें कि भोजन करने के बाद पानी कुछ देर के बाद ही पिये |

13.रात का भोजन सबसे हल्का करना चाहिए और भोजन करने के बाद तुरंत न सोकर थोडा देर टहल कर सोना चाहिए ताकि भोजन अच्छे से पच जाये|

14. रात्रि को समय से लगभग 9 से 10 बजे के बीच में सो जाना चाहिए |

पाचन शक्ति बढ़ाने के घरेलू व आयुर्वेदिक उपाय (pachan sakti badhane ke upaay)

15. बहुत से लोगो की आदत होती है सिकुड़ कर सोने की पर रात को सोते समय शरीर को फैला कर सोना चाहिए दूसरी बात कभी भी मुह को ढककर नही सोना चाहिए |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ध्यान दे की इस साइट पर जो उपाय व नुस्खे बताए जाते है वो प्रयोग किए हुए होते है सभी लेख जानकारी देने के लिए लिखे जाते है उपाय व नुस्खे आज़माने से पहले सोच विचार ज़रूर करे किसी प्रकार की अन्होनी होने पर यह साइट की कोई ज़िम्मेदारी नही होगी